Telegram Group (Join Now) Join Now
WhatsApp Group (Join Now) Join Now
WhatsApp Channel (Join Now) Join Now

Plagiarism क्या होता है? | Plagiarism Meaning In Hindi | Plagiarism Means 2023

Plagiarism Meaning In Hindi
Telegram Group (Join Now) Join Now
WhatsApp Group (Join Now) Join Now
WhatsApp Channel (Join Now) Join Now

Plagiarism Meaning In Hindi :- नमस्कार दोस्तों स्वागत है आप सभी लोगों का हमारे इस नए आर्टिकल Plagiarism Meaning In Hindi में।

आज की इस आर्टिकल में हम लोग जानेंगे कि Plagiarism क्या है?, Plagiarism Meaning In Hindi क्या होता है? और Plagiarism Checker In Hindi इत्यादि के बारे में।

आज के समय में लोग दूसरों के द्वारा बनाए गए photos ,content तथा videos को उस व्यक्ति के बिना Permission लिए ही अपने website, blog या किसी अन्य स्थान पर use करते हैं या फिर किसी दूसरे को sell कर देते हैं। इसी को साहित्यिक चोरी यानी की”Plagiarism” कहते हैं।

Plagiarism Meaning In Hindi

पहले के समय में लोग अपने ज्ञान या विचारों को किसी दूसरे तक पहुंचाने के लिए Books का सहारा लेते थे। लेकिन आज के समय में सब कुछ Digital यानी कि ऑनलाइन हो गया है।

आज के समय में हमारे द्वारा लिखी गई जानकारी को लोग बहुत ही आसानी से चुरा लेते हैं और हमारे द्वारा दी गई जानकारी को वो लोग अपने blog या फिर website पर पब्लिश कर देते हैं।

इन्टरनेट पर आप लोगों को ऐसे बहुत सारे Blog या फिर Videos देखने को मिल जाएंगे। जो कि दो या दो से अधिक बार publish किया गया होता है।

इस प्रकार जो लोग दूसरे का Blog post चुराकर अपने website या blog पर डालते हैं। उसे हम साफ ताैर से चोरी ही कहेंगे।

इस तरह के चोरी को रोकना बहुत जरूरी हैं। इसीलिए हम आप लोगों को बताने वाले हैं कि

Plagiarism क्या है?, Plagiarism कितने प्रकार के होते है?, Plagiarism कैसे चेक करते हैं? और Plagiarism से कैसे बचे? इत्यादि।

Plagiarism क्या है? (Plagiarism Meaning In Hindi)

Digital वर्ल्ड में जो दूसरे के Blog या फिर Website पर public Content होता है जैसे कि Article, photos, Story या Videos को कॉपी करके हूबहू अपने blog या website पर पब्लिश कर देते हैं।

इसको हम लोग एक तरह की डिजिटल यानी ऑनलाइन चोरी या फिर कॉपीराइट भी कह सकते हैं। इसी को Plagiarism कहा जाता हैं।

यदि कोई व्यक्ति स्वयं अपना Content Create करता हैं तो वह उस content का मालिक होता है। उसकी सहमती के बिना कोई भी उसके content को कहीं इस्तेमाल नहीं कर सकता है।

यदि कोई ऐसा करता है तो यह गैरकानूनी है और उसके खिलाफ action भी लिया जा सकता है।

वैसे भी यदि आप लोग किसी के Content को चोरी करते हैं और उसे अपने blog या website पर Publish करते हैं तो उसका कोई फायदा नहीं होने वाला हैं।

बल्कि आप लोगों को इसके गलत रिज़ल्ट ही देखने को मिलेंगे। यदि आप लोग ऐसा करते हैं तो Google आप लोगों के blog या फिर website को penalized कर देता है।

इसका अर्थ यह है कि आपके द्वारा किया गया पोस्ट google search engine में कभी rank नहीं करेगा।

Google ही नहीं बल्कि सभी Search Engine Copy किए गए Content को पसंद नहीं करते हैं। Search Engine चोरी किए गए content को अनदेखा कर देता है।

यदि आप लोग भी अपने blog या फिर website को किसी भी Search Engine में रैंक करवाना चाहते हैं तो इसके लिए आप लोगों को 100% प्रतिशत Unique Content लिखना होगा।

Types of Plagiarism In Hindi (Plagiarism Meaning In Hindi)

Plagiarism क्या होता हैं? यह आप लोगों ने एकदम अच्छे से जान लिया है। अब बात आती है कि Plagiarism कितने प्रकार का होता है? तो हम आप लोगों को बता दें कि Plagiarism तीन प्रकार के होते हैं—

  • 1. Verbatim plagiarism
  • 2. Patchwork Plagiarism
  • 3. Self-Plagiarism

Plagiarism से कैसे बचे?(Plagiarism Meaning In Hindi)

Plagiarism से बचने के लिए आप लोग स्वयं से अपने blog या website के लिए Unique Content लिखें।

क्योंकि जब आप लोग स्वयं से अपने content को लिखते हैं तो आप लोगों का content किसी दूसरे blog या website के content से मैच नहीं करता है।

अपने blog या website पर पब्लिश किए गए content को आप लोग DMCA का सहारा लेकर चोरी होने से बचा सकते हैं।

इसके अलावा यदि आप लोगों को कोडिंग आती है तो आप लोग Script लगाकर भी अपने blog या website के content को चोरी होने से बचा सकते हैं।

आप जब कभी भी Content लिखें तो उसे Plagiarism checker tool की सहायता से जरूर Check कर लें।

ताकि आप लोगों के Article में तनिक सा भी Plagiarism ना रहे और पूरी तरह यूनिक रहे। अब चलिए हम लोग जान लेते हैं कि Plagiarism checker tool क्या होता हैं?

Plagiarism Checker Tool क्या होता हैं?(Plagiarism Meaning In Hindi)

यदि आप लोग किसी ब्लॉग या फिर वेबसाइट के owner हैं तो आप लोगों को यह जरूर पता होना चाहिए कि आप लोगों के द्वारा लिखा गया Article कहीं किसी दूसरे article से match तो नहीं कर रहा हैं।

इसका पता लगाने के लिए internet पर ऐसे कई सारे Online Plagiarism Checker Tools मौजूद हैं।

जो आप लोगों को बहुत ही आसानी से बता सकते हैं कि आप लोगों के द्वारा लिख गया Article किसी दूसरे Article से match कर रहा है या नहीं।

Plagiarism Checker Tools का इस्तेमाल करना क्यों जरूरी हैं?

Plagiarism Checker Tools आप लोगों के लिए इसलिए जरूरी है क्योंकि यह आपके Content को 100% Original & unique बनाने में मदद करता है।

मान लीजिए कि आप लोग किसी content को स्वयं ही लिखते हैं तो आप लोगों को यह नहीं पता चलेगा कि आपके content में कितना प्रतिशत% Plag है और यदि आप Plagiarism Checker Tool का इस्तेमाल करते हैं तो यह बहुत ही आसानी से check करके  बता देगा।

इसके अलावा आप लोग Plagiarism Checker या Plagiarism Detector से यह भी पता लगा सकते हैं कि आप लोगों के Original Content को कोई दूसरा व्यक्ति Copy कर रहा है या नहीं।

इन tools का एक और फायदा है कि यदि आप लोग अपने blog के लिए किसी Content Writer को Hire करते हैं तो उसके द्वारा लिखे गए आर्टिकल को आप लोग Plagiarism Checker Tools की सहायता से यह जान सकते हैं कि उसका आर्टिकल कितना प्रतिशत Original है, Unique हैं और कितना प्रतिशत Plag है या फिर कितना प्रतिशत दूसरे के आर्टिकल से match कर रहा है।

Best Plagiarism Checker Tools कौन सा हैं?

दोस्तों ऑनलाइन Plagiarism check करने के लिए इन्टरनेट पर दो तरह के Plagiarism Checker Tools हैं।

  • Free Plagiarism Checker Tools
  • Premium Plagiarism Checker Tools

दोनों Plagiarism Checker Tools आप लोगों के Article को Plag Free बनाने में मदद करते हैं। 

Free Plagiarism Tools में Words लिमिट होता है। इसमें आप लोग एक बार में मात्र 1000 वर्ड्स का ही Plag check कर सकते हैं।

यदि आप लोगों को Free Plagiarism Tools पसंद नहीं है तो आप लोग Premium Plagiarism Tools का use कर सकते हैं। नीचे आप लोगों को Free और Paid दोनों ही Plagiarism Tools के बारे में बताया गया है।

Free Plagiarism Checker Tool : (Plagiarism Meaning In Hindi)

दोस्तों Duplichecker.com एक फ्री Plagiarism Check करने वाला Tool है। यह tool एक बार में अधिकतम 1000 words के आर्टिकल का ही Plag Check कर सकता है। यह tool आप लोगों के आर्टिकल के बारे में बताता है कि आपका आर्टिकल कितना प्रतिशत Original है या कितना प्रतिशत Plagiarism यानी कि copy है।

यह tool हिन्दी और इंग्लिश दोनों के plag को check कर सकता है।

Premium Plagiarism Checker Tool (Plagiarism Meaning In Hindi)

यह tool Premium और Free दोनों प्रकार के Plagiarism को Check करता है। Copyscape की site पर जाकर आप लोग अपने ब्लॉग का URL डालकर भी आर्टिकल के Plagiarism को Check कर सकते हैं।

URL से Plagiarism को Check करने की सुविधा आप लोगों को Free में ही मिल जाती हैं। लेकिन Copies Of Your Content या फिर Document को Check करने की सुविधा आप लोगों को केवल paid version में ही मिलती है।

Also Read :-

Home PageClick Here
BHAR OS KYA HAIClick Here
Bihar Jeevika Bharti 2023Click Here
IPL में कौन लेता है सबसे ज्यादा फीसClick Here
बिहार के शिक्षा मंत्री कौन है?Click Here
Chomu Meaning In HindiClick Here

Plagiarism के फायदे (Plagiarism Meaning In Hindi)

जैसा कि हम लोगों ने ऊपर पढा है कि किसी के content को कॉपी करना या चुराना बहुत ही गलत बात है। Copy करने के ज्यादा फायदे तो नहीं है लेकिन फिर भी हम आप लोगों को उसके कुछ फायदे को Points में बताने की कोशिश करते हैं —

  • यदि आप लोग किसी दूसरे के website से किसी content को Copy करते हैं तो ऐसा करने से आप लोगों का काफी समय बचेगा।
  • आप लोग अपने आर्टिकल को बहुत ही कम समय में Complete कर लेंगे। इसके साथ ही साथ आप लोगों को ज्यादा लिखने की आवश्यकता भी नहीं पड़ेगी।
  • यदि आप लोग किसी दूसरे के Content को Copy करते है तो इसमें आप लोगों को ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ती है।
  • आप लोग कम समय में ज्यादा content तैयार कर सकते हैं। इससे आप लोगों के site की traffic और visitor की संख्या में वृद्धि होगी।

Plagiarism के नुकसान (Plagiarism Meaning In Hindi)

दोस्तों किसी भी कंटेंट को कॉपी करना बहुत बुरी और गलत बात है। यदि आप लोग Content को Copy करते हैं तो उसमे आपका कोई फायदा नहीं होने वाला है। लेकिन हां नुकसान होने के चांसेज बहुत ज्यादा हैं। Content को copy करने के कुछ निम्न नुकसान हैं – 

यदि आप लोग किसी दूसरे के आर्टिकल को Copy करके अपने ब्लॉग या फिर वेबसाइट पर पब्लिश करते हैं तो इससे आप लोगों को काफी नुकसान उठाना पड़ सकता हैं। क्योंकि google copy किए गए content को कभी भी google search engine में Rank नहीं देता है।

यदि आप लोगों का ब्लॉग या वेबसाइट blogger पर है और आप लोग Plagiarism वाले कंटेंट को बहुत ज्यादा अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर पब्लिश करते हैं तो गूगल आप लोगों के Blog या website को बंद भी कर सकता है।

किसी भी article को चोरी करना copyright issue के अन्तर्गत आता है। इसके साथ ही साथ आप लोगों को ऐसा करने पर Copyright Act के तहत जुर्माना भी देना पड़ सकता हैं। यदि आप लोग जुर्माना नहीं देते हैं तो आप लोगों को जेल जाने की सजा भी हो सकती है।

यदि आप लोग किसी ब्लॉग या फिर किसी वेबसाइट के owner हैं तो आप लोग article लिखने के बाद उस article का Plag check करना बिल्कुल भी ना भूलें। आप लोग यकीन मानिए की ये Unique और Plag Free content आप लोगों के ब्लॉग या वेबसाइट को एक दिन शिखर तक ले जाएंगी।

FAQs related Plagiarism Meaning In Hindi

Q. Plagiarism Meaning In Hindi का मतलब क्या होता है?

इसका मतलब “साहित्यिक चोरी” होता है। अर्थात किसी दूसरे के article, photos और videos को चुराना। 

Q. क्या Copied content google में rank करेगा?

जी नहीं copied content google में बिलकुल भी rank नहीं करेगा।

Q. Plagiarism से कैसे बचें?

यदि आप लोग Plagiarism से बचना चाहते हैं तो आप लोगों को अपना आर्टिकल 100% unique लिखना होगा। 

Conclusion : Plagiarism Meaning In Hindi

दोस्तों हम आशा करते हैं कि आज की यह आर्टिकल आप लोगों को पूर्ण रूप से समझ में आई होगी। हमारे द्वारा बताई गई जानकारी से आप लोग संतुष्ट होंगे और अब आप लोग Plagiarism क्या हैं?, Plagiarism Meaning In Hindi क्या होता है? इत्यादि के बारे में जान गए होंगे।  

यदि अब भी आप लोगों के पास Plagiarism Meaning In Hindi से जुड़ा हुआ कोई सवाल या फिर कोई डाउट है तो आप लोग कमेंट में पूछ सकते हैं।

Leave a Comment

x